COVID-19 के 89.5% नए मामले सिर्फ 7 राज्यों के:स्वास्थ्य मंत्रालय

गुजरात और तमिलनाडु में कम मामले दर्ज हुए थे लेकिन अब वहां भी महामारी फिर से सिर उठाती नजर आ रही है.

Published
महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात और छत्तीसगढ़ में रोजाना कोरोना के नए मामलों की संख्या में बढ़त हो रही है.
i

देश में दर्ज हुए नए मामलों में से 89.5% मामले 7 राज्यों के हैं. ये जानकारी स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुरुवार को दी और कहा कि इन राज्यों में स्थिति बिगड़ रही है. मंत्रालय ने कहा कि महाराष्ट्र और केरल में सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं. वहीं छत्तीसगढ़, पंजाब और मध्य प्रदेश में भी कुछ दिनों से स्थिति बिगड़ रही है. इसके अलावा गुजरात और तमिलनाडु में कम मामले दर्ज हुए थे लेकिन अब वहां भी महामारी फिर से सिर उठाती नजर आ रही है.

मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, "देश में एक्टिव मामलों की संख्या 1,51,708 हो गई है. कुछ राज्यों जैसे महाराष्ट्र, केरल, पंजाब, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात और छत्तीसगढ़ में रोजाना नए मामलों की संख्या में बढ़त हो रही है."

देश में बीते 24 घंटों में 16,738 मामले दर्ज हुए हैं. इनमें से महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 8,807 मामले सामने आए हैं. इसके बाद केरल में 4,106 मामले और पंजाब ने 558 नए मामले दर्ज हुए हैं.

यही वजह है कि इन राज्यों में कोविड -19 के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए केंद्र ने महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और जम्मू-कश्मीर में उच्च स्तर की मल्टी-डिसीप्लीनरी टीम बना दी हैं. ताकि यहां महामारी पर काबू पाने के लिए सख्ती से और तेजी से उपाय किए जा सकें.

इन 3 सदस्यों वाली टीमों को नेतृत्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव स्तर के अधिकारी करेंगे. ये टीमें राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रशासन के साथ मिलकर काम करेंगे और कोविड -19 मामलों की संख्या में हाल ही में हुई बढ़त के कारणों का पता लगाएंगे. साथ ही वे कोविड-19 संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए भी काम करेंगे.

(Subscribe to FIT on Telegram)

Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!