ADVERTISEMENT

पेट के अल्सर के लिए 7 घरेलू उपचार

जानिए पेट के अल्सर का इलाज घर पर कैसे करे !

Published
<div class="paragraphs"><p>घरेलू उपचार पेट के अल्सर में मददगार&nbsp;</p></div>
i

पेट के अल्सर, पेप्टिक अल्सर रोग के एक प्रकार हैं, जो आंत और पेट की परत, दोनों को प्रभावित करते हैं. पेट के अल्सर तब होते हैं, जब पेट की मोटी श्लेष्म परत पतली हो जाती है और परिणामस्वरूप पाचन रस या एसिड से पेट की परत को नुकसान होता है.

मायो क्लिनिक के डॉक्टरों के अनुसार, पेट के अल्सर का कारण हेलिकोबैक्टर पाइलोरी से होने वाला जीवाणु संक्रमण, सूजन अवरोधक दवाओं का अधिक उपयोग, अधिक अम्लता (एसिडिटी) या ज़ोलिंगर एलिसन रोग हो सकता है.

यदि अनुपचारित या अनदेखा किया जाए तो यह लक्षण गंभीर हो सकते हैं और आपको अधिक नुकसान पहुंचा सकते हैं. इसलिए, इसका प्रारंभिक चरण में ही निदान कर लेना बेहतर है जो कि कुछ घरेलू उपचारों के साथ ही संभव है. चलिए कुछ घरेलू तरीकों के बारे में जानते हैं, जो पेट के अल्सर के इलाज में मदद कर सकते हैं.

प्रोबायोटिक्स

किण्वित खाद्य पदार्थ, दही और प्रोबायोटिक की खुराक जैसे प्रोबायोटिक्स से पेट के अल्सर के इलाज में मदद मिल सकती है क्योंकि प्रोबायोटिक्स में मौजूद जीव अच्छे बैक्टीरिया और स्वस्थ आंत को बढ़ावा देते हैं.

पबमेड सेंट्रल के अनुसार, प्रोबायोटिक्स में अच्छे बैक्टीरिया अल्सर पैदा करने वाले बैक्टीरिया को नहीं मार सकते हैं, लेकिन वे लक्षणों को कम करने, खराब बैक्टीरिया को कम करने और उपचार प्रक्रिया को तेज़ी से बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं.

अदरक

<div class="paragraphs"><p>अदरक  एंटी इंफ्लेमेटरी एजेंट है.&nbsp;</p></div>

अदरक एंटी इंफ्लेमेटरी एजेंट है. 

(फोटो: Pixabay)

पबमेड सेंट्रल के अनुसार, अदरक के नियमित उपयोग से एच.पायलोरी और एन.एस.ए.आई.डी के कारण होने वाले पेट के अल्सर को रोका जा सकता है. यह गैस्ट्रोप्रोटेक्टिव प्रभाव भी रखता है और पेट और पाचन समस्या जैसे कब्ज, गैस्ट्राइटिस, सूजन और गैस के इलाज में मदद करता है.

फल

समृद्ध रंगों के फल जैसे कि, ब्लूबेरी, चेरी, सेब, नींबू और संतरे रंगीन फल हैं, जो कि फ्लेवोनोइड्स नामक पॉलीफेनोल्स की उपस्थिति के कारण पेट के अल्सर के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं.

यूएस एन.आई.एच के अनुसार, ये रंगीन फल पाचन और पेट की समस्याओं जैसे अल्सर, ऐंठन, दस्त आदि के लिए फायदेमंद होते हैं. फ्लेवोनोइड्स एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं और ये पेट के चारों ओर म्यूकस मेम्ब्रेन के निर्माण में मदद करके अल्सर को रोक सकते हैं.

केले

सारे नहीं परन्तु प्लान्तैन केले एक विशिष्ट प्रकार के केले होते हैं, जो पेट के अल्सर को रोकने या उसका इलाज करने में मदद कर सकते हैं. पबमेड सेंट्रल के अनुसार, कच्चे प्लान्तैन केले पेप्टिक अल्सर के लिए फायदेमंद होते हैं. केले में मौजूद ल्यूकोसायनिडिन जैसे फ्लेवोनोइड्स अस्तर के चारों ओर बलगम को बढ़ाने में मदद करते हैं, जो अल्सर से अस्तर की रक्षा करता है.

केला एसिडिटी को कम करने में भी मदद करता है, जो अल्सर के लक्षणों को कम करने और पेट की परत को नुकसान पहुंचाने वाले पाचक रसों के उत्पादन में सहायक होता है.

हल्दी

<div class="paragraphs"><p>हल्दी अल्सर के इलाज और रोकथाम में मदद कर सकती है</p></div>

हल्दी अल्सर के इलाज और रोकथाम में मदद कर सकती है

(फोटो: iStockphoto)

यूएस एन.आई.एच के अनुसार, हल्दी के पीले रंग के लिए जिम्मेदार करक्यूमिन के कई स्वास्थ्य लाभ हैं. करक्यूमिन के विरोधी भड़काऊ और एंटीऑक्सीडेंट गुण पेट के अल्सर के इलाज और रोकथाम में मदद कर सकते हैं.

अल्सर पर हल्दी के प्रभाव को जानने के लिए और अधिक शोध की आवश्यकता है लेकिन प्रारंभिक कार्यवाही ने अल्सर के कारण होने वाले दर्दनाक घावों के इलाज में सकारात्मक परिणाम दिखाए हैं.

कैमोमाइल

कैमोमाइल का उपयोग अल्सर के इलाज के लिए घरेलू उपचार के रूप में किया जा सकता है. वे अल्सर पर सुखदायक प्रभाव डालते हैं और गैस्ट्रिक अल्सर के कारण होने वाले दर्द और घावों से छुटकारा पाने में मदद करते हैं.

पबमेड सेंट्रल के अनुसार, कैमोमाइल अल्सर पैदा करने वाले बैक्टीरिया के विकास को रोकता है और एसिडिटी को कम करता है, जो पेट के अल्सर में योगदान देता है. कैमोमाइल चाय सूजन और गैस के इलाज में भी मदद करती है.

लहसुन

लहसुन अपने जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी गुणों के कारण अल्सर की उपचार प्रक्रिया में फायदेमंद हो सकता है. यूएस एन.आई.एच के अनुसार, दिन में दो बार भोजन के साथ लहसुन की दो कलियां पुराने और सक्रिय गैस्ट्राइटिस, पेप्टिक और ग्रहणी संबंधी अल्सर और अन्य पाचन संबंधी समस्याओं के इलाज और रोकथाम में मदद कर सकती हैं.

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT