ADVERTISEMENT

कोरोना की तीसरी लहर के शुरुआती चरण में है दुनिया: WHO प्रमुख

Delta वेरिएंट अब दुनिया के 111 देशों में पहुंच चुका है

Updated
<div class="paragraphs"><p>Coronavirus| Covid Third Wave:&nbsp;कोरोना की तीसरी लहर के शुरुआती चरण में है दुनिया</p></div>
i

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के महानिदेशक ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस ने डेल्टा वेरिएंट को लेकर चेताते हुए कहा है कि डेल्टा वेरिएंट के बढ़ते मामलों के बीच विश्व अब तीसरी लहर के शुरुआती चरण में है.

उन्होंने बुधवार 14 जुलाई 2021 को इंटरनेशनल हेल्थ रेगुलेशन्स इमरजेंसी कमिटी की 8वीं बैठक में कहा कि डेल्टा वेरिएंट के प्रसार के बीच सामाजिक गतिशीलता में वृद्धि और सिद्ध सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों के असंगत उपयोग के साथ, मामलों की संख्या और मौतों दोनों में वृद्धि हो रही है.

COVID-19: 10 हफ्ते की गिरावट के बाद, मौतें फिर से बढ़ रही हैं

घेब्रेयसस ने कहा, "10 हफ्ते की गिरावट के बाद, मौतें फिर से बढ़ रही हैं. वायरस का विकास जारी है, जिसका नतीजा ज्यादा संक्रामक वेरिएंट हैं. दुर्भाग्य से, हम अब तीसरी लहर के शुरुआती चरण में हैं."

"डेल्टा वेरिएंट अब दुनिया के 111 देशों में पहुंच चुका है. हमें आशंका है कि यह जल्दी ही दुनिया में कोरोना संक्रमण का सबसे घातक स्ट्रेन साबित होगा."
ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस, महानिदेशक, विश्व स्वास्थ्य संगठन

उन्होंने कहा कि टीकों के वैश्विक वितरण में चौंकाने वाली असमानता है और जीवन रक्षक उपकरणों तक असमान पहुंच है.

ADVERTISEMENT

कई देशों को अभी भी कोई वैक्सीन नहीं मिली है

<div class="paragraphs"><p>ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस, महानिदेशक, विश्व स्वास्थ्य संगठन</p></div>

ट्रेडोस अदनोम घेब्रेयसस, महानिदेशक, विश्व स्वास्थ्य संगठन

(फोटो: आईएएनएस)

उन्होंने अफसोस जताया कि कई देशों को अभी भी कोई वैक्सीन नहीं मिली है और ज्यादातर देशों के पास पर्याप्त वैक्सीन नहीं है.

ट्रेडोस ने कहा, इस असमानता ने दो-ट्रैक महामारी पैदा कर दी है - अर्थात, वैक्सीन की सबसे बड़ी पहुंच वाले देशों के लिए एक ट्रैक, जो प्रतिबंध हटा रहे हैं और लॉकडाउन फिर से खोल रहे हैं और दूसरा ट्रैक उन लोगों के लिए जिनके यहां अभी वैक्सीनेशन नहीं हुआ है.

उन्होंने सितंबर तक हर देश की कम से कम 10 प्रतिशत आबादी, 2021 के अंत तक कम से कम 40 प्रतिशत और 2022 के मध्य तक कम से कम 70 प्रतिशत टीकाकरण के लिए बड़े पैमाने पर जोर देने के लिए WHO की अपील को दोहराया.

ADVERTISEMENT

देशों को लगातार सावधानी बरतनी होगी

इस बात पर जोर देते हुए कि अकेले वैक्सीन महामारी को नहीं रोकेगी, ट्रेडोस ने देशों से लगातार सावधानी रखने का आह्वान किया.

इसका मतलब है कि उपलब्ध सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामाजिक उपायों की पूरी श्रृंखला का उपयोग करना और सामूहिक समारोहों के लिए व्यापक जोखिम प्रबंधन अपनाना है.

उन्होंने जोर देकर कहा,

"दुनिया भर के कई देशों ने दिखाया है कि इन उपायों से इस वायरस को रोका और नियंत्रित किया जा सकता है."

वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी वैक्सीनेशन की स्थिति को रिकॉर्ड करने के लिए एक सामंजस्यपूर्ण दृष्टिकोण का समर्थन करने के लिए टीकाकरण और प्रोफिलैक्सिस के लिए अंतर्राष्ट्रीय प्रमाणपत्र को डिजिटल बनाने के विकल्पों की भी समीक्षा कर रही है.

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT