सेक्सॉल्वः ‘मैं गे हूं और एक महिला की तरफ आकर्षित हो गया हूं’

'क्या मैं अस्वाभाविक या अजीब हूं?'

Published
'क्या मैं अस्वाभाविक या अजीब हूं?'
i

(चेतावनी: कुछ सवाल आपको विचलित कर सकते हैं. पाठक को पढ़ने से पहले विवेक का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है.)

सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का फिट पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.

अगर आपके मन में सेक्स, सेक्स के तौर-तरीकों या रिलेशनशिप से जुड़े कोई सवाल हैं और आपको किसी तरह की सलाह की जरूरत है, किसी सवाल का जवाब चाहते हैं या फिर यूं ही चाहते हैं कि कोई आपकी बात सुन ले- तो हरीश अय्यर को लिखें और वह आपके लिए ‘सेक्सॉल्व’ करने की कोशिश करेंगे. आप sexolve@thequint.com पर मेल करें.

पेश हैं इस हफ्ते के सवाल-जवाबः

'मैं जिससे प्यार करती हूं, वह दूसरी लड़कियों के साथ भी संबंध रखना चाहता है'

‘उसने यह साफ कर दिया था कि वह किसी ऐसी रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहता जो सिर्फ एक रिलेशनशिप हो.'
‘उसने यह साफ कर दिया था कि वह किसी ऐसी रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहता जो सिर्फ एक रिलेशनशिप हो.'
(फोटो: iStock)

डियर रेनबोमैन,

मैं 22 साल की लड़की हूं और एक अधेड़ उम्र के आदमी से प्यार करती हूं. सब कुछ अचानक हो गया. हम एक परिचित के जरिये दोस्त बने थे और जल्द ही हम एक-दूसरे के करीब आ गए. इसके बाद हमने फिर नियमित रूप से मिलना शुरू कर दिया. हमारी जिंदगी में अभी भी यही रूटीन है.

मुश्किल यह है कि यह शख्स अब कुछ महीनों के लिए दूसरे शहर जा रहा है और उसने मुझे सच्चाई से बता दिया कि वह अपनी एक सहकर्मी के साथ जा रहा है. जब मैंने उससे पूछा कि क्या मौका आया तो वह उसके साथ सेक्स करेगा, तो उसने कहा, “मैं उसके साथ सेक्स करना पसंद करूंगा.” इससे मुझे वाकई बहुत गुस्सा आया और मेरी उससे लड़ाई हो गई. जब मैंने उससे पूछा कि क्या वह मुझसे प्यार करता है, तो उसने कहा कि उसके मन में मेरे लिए बहुत चाहत और प्यार है लेकिन यह एक परंपरागत प्रेम कहानी नहीं है. उसने पहले ही यह साफ कर दिया था कि वह किसी ऐसी रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहता, जो सिर्फ एक रिलेशनशिप हो और वह कई लड़कियों के साथ रिलेशन में रहना चाहता है.

यह सच है कि उसने शुरुआत में एक बार इसका जिक्र किया था, जब हम करीब आ रहे थे और बाद में भी एक-दो बार बताया. लेकिन वह यह भी जानता था कि मैं उसके प्यार में दीवानी हूं और हर समय उसके बारे में सोचती रहती हूं. मैंने उसके दूसरी महिलाओं से मिलने पर एतराज किया था. मुझे लगा कि यह एक दौर है और सभी मर्द एक से ज्यादा महिलाओं के संपर्क में आते हैं, लेकिन मेरा प्यार उसे हमेशा मेरे साथ बांधे रखेगा. मैंने कभी नहीं सोचा था कि शहर से बाहर बस एक छोटी सी पोस्टिंग पर, वह प्रतिबद्धता के हमारे अनकहे बंधन से बाहर निकल जाएगा.

मैं सोचती हूं कि क्या मैंने कोई गलती की. क्या यह मेरी उम्र का कसूर है? मुझे ठुकराए जाने से नफरत है. कृपया चीजों को ठीक से समझने में मेरी मदद करें. क्या मुझे उससे अलग हो जाना चाहिए? मैं उससे बहुत प्यार करती हूं, मैं यह कैसे कर सकती हूं?

बेताब प्रेमिका

डियर बेताब प्रेमिका,

मुझे लिखने के लिए बहुत-बहुत शुक्रिया. कोई शख्स कभी नहीं जान सकता कि कोई दूसरा शख्स क्या महसूस कर रहा है, लेकिन मैं जानता हूं कि किसी के प्यार में पड़ने और किसी से प्यार करने में कैसा महसूस होता है. यह एक जादुई एहसास है. मुझे खुशी है कि आप इस जादू का एहसास कर रही हैं. कभी-कभी पेट के अंदर गुदगुदी महसूस होती है और कभी-कभी एक तरह की खुशी भरी घबराहट होती है, जब हम किसी ऐसे शख्स से मिलते हैं, जिसके प्रति हम बहुत ज्यादा आकर्षित होते हैं.

मैं जानता हूं कि प्यार की एक अपनी भाषा होती है. लेकिन कभी-कभी प्यार की भाषा को ठीक से समझने के लिए हमारी आम बोलचाल की भाषा का इस्तेमाल करने की जरूरत पड़ती है.

हम जिससे प्यार करते हैं, उसके साथ साफ बातचीत जरूरी है. नियमित रूप से ख्वाहिश और हकीकत की तुलना करना जरूरी है.

हमारे पास प्यार को जाहिर करने के अलग-अलग तरीके हैं, लेकिन हर ख्याल के इजहार का मतलब यह नहीं होगा कि दो लोगों के बीच प्रतिबद्ध रोमांटिक संबंध बनने जा रहा है. एक दूसरे के लिए जुनून और संवेदना की लौ से रौशन दो शरीर और दिलों के बीच ये जज्बात, वक्त के साथ अलग रूप बदल सकते हैं.

प्यार में, अंदाजा लगाने के लिए कोई गुंजाइश नहीं होनी चाहिए.

आपका प्रेमी इस तथ्य के बारे में साफ था कि वह ज्यादा लोगों से प्यार करेगा, जब उसने कहा था कि वह बहु-स्त्रीगामी है. बहु-स्त्रीगामी लोग एक से ज्यादा लोगों के प्यार में पड़ने में सक्षम हैं. इसका मतलब यह नहीं है कि वह निश्चित रूप से आपसे प्यार नहीं करता. इसका मतलब है कि भले ही वह आपसे प्यार कर रहा हो, वह ज्यादा लोगों के साथ प्यार कर सकता है.

बहु-स्त्रीगामी संबंध तब सबसे अच्छे हैं, अगर वे ईमानदारी, नियमित और खुली बातचीत व इस विचार के प्रति प्रतिबद्धता पर आधारित हैं कि सभी बहु-स्त्रीगामी पार्टनर इससे सहमत हों. बहु-स्त्रीगामी रिलेशनशिप के लिए बुनियादी नियम तय करने की जरूरत है, जिस पर सभी सहमत हों.

जब जज्बात का उफान आता है तो कायदे की बातचीत मुमकिन नहीं है. प्लीज उसके साथ बैठें और साफ तौर से समझें कि वह क्या चाहता है. बिना किसी झिझक के अपनी सोच और अपेक्षाओं को उसके सामने रखें.

अपने जज्बात को जाहिर करने में ईमानदार रहें और समझें कि आपको भी उसकी बातों के लिए जगह बनाने की जरूरत होगी, जब वह ईमानदारी से अपनी बात बताता है जैसा वह महसूस करता है.

आप दो अलग-अलग शख्सियत हैं, आप हमेशा एक जैसा नहीं सोच सकते. लेकिन जब लोग एक-दूसरे को महत्व देते हैं, तो वे सुनते हैं और आमतौर पर एक-दूसरे के साथ साझा प्यारे बंधन को बचाने के लिए बुनियादी नियम और मूल्य तय करने के लिए तैयार रहते हैं. किसी भी नजरिये से, आपको ऐसा नहीं सोचना चाहिए कि आपने कोई गलत सौदा किया था.

खुद को समय दें और सब्र रखें ताकि आप एक साथ फैसला ले सकें. इसके अलावा, खुद को नतीजों के वास्ते तैयार करने के लिए मेंटल हेल्थ प्रोफेशनल, बेहतर होगा कि एक अच्छे मनोवैज्ञानिक की मदद लें... ताकि आप खुशियों में न बह जाएं, या चीजें आपके मनमाफिक न हों तो टूट न जाएं क्योंकि अपने दिल की गहराइयों से हमें निश्चित रूप से यह समझने की जरूरत है कि ये दोनों संभावनाएं मौजूद हैं.

प्लीज अपना अच्छी तरह ख्याल रखें.

मैं आपके लिए ढेर सारा प्यार और खुशी की ख्वाहिश रखता हूं.

सप्रेम

रेनबोमैन

अंतिम बातः किसी को प्यार करना शानदार है. खुद को प्यार और भी शानदार है!

‘मैं गे हूं और एक महिला की तरफ आकर्षित हो गया हूं'

‘मेरी अपने वर्कप्लेस पर एक महिला से मुलाकात हुई और मैं उसकी ओर आकर्षित हो गया’
‘मेरी अपने वर्कप्लेस पर एक महिला से मुलाकात हुई और मैं उसकी ओर आकर्षित हो गया’
(फोटो: iStock)

डियर रेनबोमैन,

मैं अपनी पूरी जिंदगी गे रहा हूं. मैं 28 साल का हूं. मेरा एक ब्वॉयफ्रेंड है और हम एक-दूसरे के प्यार में दीवाने हैं, लेकिन आज मैं खुद से नफरत करता हूं क्योंकि मैं अपने वर्कप्लेस पर एक महिला से मिला और मुझे उसके प्रति बहुत गहरा आकर्षण महसूस हुआ. इतना ज्यादा आकर्षण कि मैं घर पहुंचा और जबकि मेरा ब्वॉयफ्रेंड दूसरे कमरे में, बिस्तर पर बिना कपड़ों के पड़ा था, मैं बाथरूम में गया और उस लड़की के बारे में सोचता हुआ मास्टरबेशन कर रहा था, जो मुझे अभी-अभी वर्कप्लेस पर मिली थी.

मुझे इस तरह का आकर्षण पहले महसूस नहीं हुआ था और मैंने किसी भी महिला के लिए इस तरह के आकर्षण को महसूस नहीं किया था, सिवा इस एक लड़की के. मैंने सोचा कि यह धोखा देने जैसा है क्योंकि मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड की इजाजत नहीं ली है. मैंने कल उससे बात की तो उसने हंसते हुए कहा, “तो क्या हुआ?” इससे मुझे लगा कि उसने हालात की गंभीरता को नहीं समझा. मुझे क्या करना चाहिए? क्या मैं धीरे-धीरे स्ट्रेट हो रहा हूं? मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड से प्यार करता हूं और अभी भी उसके प्रति सेक्स आकर्षण महसूस करता हूं, लेकिन इस महिला के प्रति आकर्षण फिक्र पैदा कर रहा है. क्या मैं अस्वाभाविक या अजीब हूं? कृपया मदद कीजिए.

फिक्रमंद गे मैन

डियर फिक्रमंद गे मैन,

मुझे लिखने के लिए शुक्रिया. मुझे उम्मीद है कि आप इस जवाब को पढ़ने के बाद अपने हस्ताक्षर एक फिक्रमंद गे मैन को बदल लेंगे क्योंकि आपको जो लगता है, वो ऐसा कुछ ऐसा नहीं है, जिसे अस्वाभाविक या अजीब कहा जा सकता हो.

कई बार हम किसी के जेंडर या जेंडर की अभिव्यक्ति या सेक्स के बावजूद किसी व्यक्ति के प्रति सेक्सुअली या भावनात्मक रूप से आकर्षित होते हैं. ऐसे में, इसका यह मतलब नहीं हो सकता है कि असल में आपकी सेक्सुअलटी बदल रही है या आप किसी के साथ नाइंसाफी कर रहे हैं या अजीब हो रहे हैं.

आप अभी भी गे के रूप में पहचान रख सकते हैं और बाई-क्यूरियस (दोनों में रुचि रखने वाला) हो सकते हैं. आप एक गे पुरुष हो सकते हैं और किसी महिला के प्रति आकर्षित हो सकते हैं. आप बाई-सेक्सुअल (उभयलिंगी) भी हो सकते हैं और अपने पुरुष पार्टनर के लिए प्रतिबद्ध हो सकते हैं. सब कुछ मुमकिन है. सब कुछ स्वाभाविक है.

सेक्सुअलटी कई रंगों वाला इंद्रधनुष है और सिर्फ आप ही तय करेंगे कि आपका कौन सा रंग है.

एक गे पुरुष के तौर पर भी, ऐसे लम्हे आ सकते हैं जब आप या आपके पार्टनर, दूसरे पुरुषों पर रीझ सकते हैं/आकर्षित हो सकते हैं. यह स्वाभाविक है. इसका मतलब यह नहीं है कि आप अंत में जरूरी तौर पर उस व्यक्ति के साथ हमबिस्तर ही होने जा रहे हैं. इस मामले में, आपने एक महिला को आकर्षक पाया. यह इन सबसे अलग नहीं हो सकता है.

जेंडर और सेक्सुअलटी परिवर्तनीय हैं. इसमें उलझने की जरूरत नहीं है. सिर्फ आप और सिर्फ आप ही हैं, जो अपनी सेक्सुअलटी या अपने जेंडर को परिभाषित कर सकते हैं.

इस वजह से आप में कुछ भी अस्वाभाविक नहीं है.

मुस्कान के साथ

रेनबोमैन

अंतिम बातः मैं आपके बॉयफ्रेंड से सहमत हूं, आप एक महिला के प्रति सेक्सुअली आकर्षित महसूस करते हैं, “तो क्या हुआ?”

‘क्या ज्यादा मास्टरबेशन से मेरा पेनिस कमजोर हो जाएगा?’

क्या ज्यादा मास्टरबेशन से मेरा पेनिस कमजोर हो जाएगा देगा और मेरे स्पर्म खत्म हो जाएंगे? ’
क्या ज्यादा मास्टरबेशन से मेरा पेनिस कमजोर हो जाएगा देगा और मेरे स्पर्म खत्म हो जाएंगे? ’
(फोटो: iStock)

डियर रेनबोमैन,

क्या मास्टरबेशन से मेरा पेनिस कमजोर हो जाएगा और मेरे स्पर्म खत्म हो जाएंगे? क्या ये सुरक्षित है?

चिंतित युवा

डियर चिंतित युवा,

मुझे लिखने के लिए शुक्रिया.

उत्तेजित होने पर कभी-कभी मास्टरबेशन करें, लेकिन इसे जुनून ना बनाएं. मास्टरबेशन को हानिरहित माना जाता है. हालांकि, ज्यादा मात्रा में कोई भी चीज अच्छी नहीं है. इसे अपनी रोजमर्रा की जिंदगी या रूटीन में दखल न देने दें.

मुझे नहीं पता कि “स्पर्म खत्म हो जाने” से आपका क्या मतलब है. जब आप बार-बार मास्टरबेशन करते हैं, तब भी कारगर स्पर्म का होना संभव है.

मुस्कान के साथ

रेनबोमैन

अंतिम बातः किसी भी चीज की अति बुरी है.

(हरीश अय्यर एलजीबीटी समुदाय, महिलाओं, बच्चों और जानवरों के अधिकारों के लिए काम करने वाले एक समान अधिकार कार्यकर्ता हैं.)

(Subscribe to FIT on Telegram)

Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!