ADVERTISEMENT

कोरोना के इलाज में रेमेडिसविर का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए:WHO

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड इलाज के लिए रेमडेसिविर के इस्तेमाल के खिलाफ चेताया

Published
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोविड इलाज के लिए रेमडेसिविर के इस्तेमाल के खिलाफ चेताया
i

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चेतावनी दी है कि कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए एंटीवायरल ड्रग रेमडिसिविर का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए, भले ही मरीज कितना भी बीमार क्यों न हो क्योंकि इस दवा के प्रभावी होने के कोई सबूत नहीं हैं.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने अपनी रिपोर्ट में WHO के गाइडलाइन डेवलपमेंट ग्रुप पैनल के हवाले से कहा, "पैनल को ऐसे सबूत नहीं मिले हैं, जिससे पता चले कि रेमडिसिविर से नतीजों में सुधार आया हो या मरीजों की मौत की दर कम होने जैसे कोई अन्य फायदे सामने आए हों. ऐसे में रेमडिसिविर से नुकसान होने की आशंका बनी रहती है."

WHO की यह सिफारिश ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में आए सबूतों की एक समीक्षा पर आधारित है जिसमें 7,000 से अधिक अस्पताल में भर्ती मरीजों के बीच 4 अंतरराष्ट्रीय रैंडम टेस्टिंग के डेटा शामिल थे.

समीक्षा के बाद, पैनल ने निष्कर्ष निकाला कि रेमडिसिविर का मरीजों के लिए मृत्यु दर या अन्य महत्वपूर्ण परिणामों पर कोई सार्थक प्रभाव नहीं है.

बता दें कि यह एंटीवायरल दुनिया भर में कोविड-19 रोगियों के इलाज के लिए अधिकृत केवल दो दवाओं में से एक है.

अमेरिका, यूरोपीय संघ और अन्य देशों में उपयोग के लिए इसे मंजूरी दी गई है क्योंकि प्रारंभिक शोध में पाया गया था कि इससे कुछ कोविड-19 रोगियों की रिकवरी जल्दी हो सकती है.

ADVERTISEMENT

अमेरिकी कंपनी गिलियड द्वारा निर्मित रेमडिसिविर बेहद महंगी दवा है. कंपनी ने पिछले महीने कहा था कि इस दवा की तीसरी तिमाही की बिक्री में लगभग 900 मिलियन यानी कि 90 करोड़ डॉलर की बढ़ोतरी हुई है.

वहीं दुनिया भर में कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी जारी है. जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (सीएसएसई) के मुताबिक दुनिया में कोविड-19 से 5,68,17,667 संक्रमित और 13,58,489 मौतें दर्ज हो चुकी हैं.

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT