सर्दियों में अच्छा होगा इन जड़ी बूटियों का इस्तेमाल
सर्दियों में आपको गर्माहट देंगी ये जड़ी-बूटी
सर्दियों में आपको गर्माहट देंगी ये जड़ी-बूटी(फोटो: iStock)

सर्दियों में अच्छा होगा इन जड़ी बूटियों का इस्तेमाल

सर्दियों की शुरुआत हो चुकी है, अब आपको खुद को ठंड से बचाने की जरूरत है और शरीर को गर्म रखना है.

My22BMI की को-फाउंडर और हेल्थ कोच प्रीति त्यागी ने सर्दियों के मौसम में खुद को चुस्त-दुरुस्त और स्वस्थ रखने के लिए कुछ खास जड़ी बूटियों के बारे में बताया है, जो आसानी से आपकी रसोई में ही आपको मिल जाएंगे.

1. तुलसी

आप रोजाना दो पत्तियों का सेवन सीधे या फिर चाय में डालकर कर सकते हैं.
आप रोजाना दो पत्तियों का सेवन सीधे या फिर चाय में डालकर कर सकते हैं.
(फोटो: iStock)

तुलसी को एलर्जी, सांस संबंधी समस्या और ब्रोंकाइटिस की समस्या से निजात पाने में कारगार बताया गया है.

आप रोजाना दो पत्तियों का सेवन सीधे या फिर चाय में डालकर कर सकते हैं. इस पौधे के हर्बल सप्लीमेंट भी आसानी से मिल जाते हैं.

Loading...

2. अदरक

आप अदरक वाली चाय डिटॉक्स ड्रिंक के तौर पर पी सकते हैं.
आप अदरक वाली चाय डिटॉक्स ड्रिंक के तौर पर पी सकते हैं.
(फोटो: iStock)

अदरक को भी जड़ी बूटी के तौर पर देखा जाता है. एक स्टडी में ये बताया गया है कि अदरख खाने से अस्थमा में काफी आराम मिलता है.

इसके अलावा आप अदरक वाली चाय डिटॉक्स ड्रिंक के तौर पर पी सकते हैं. अदरक के रस को काली मिर्च और शहद के साथ मिलाकर लेने पर सांस संबंधी एलर्जी में काफी आराम मिलता है, इससे नाक की नली भी साफ होती है.

Also Read : क्या तुलसी, अदरक का सेवन प्रदूषित हवा से हमारी रक्षा कर सकता है?

3. बटरबर

इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं.
इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं.
(फोटो: https://nccih.nih.gov/Steven Foster)

यह माइग्रेन की समस्या में लाभदायक है. इस बात की पुष्टि हुई है कि ये एलर्जी के लक्षणों में लाभदायक है. हालांकि इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हैं. किसी भी मामले में इसका अतिरिक्त सेवन हानिकारक है.

4. रोजमेरी

ताजे और सूखे रोजमेरी का प्रयोग कई व्यंजनों में किया जाता है
ताजे और सूखे रोजमेरी का प्रयोग कई व्यंजनों में किया जाता है
(फोटो: विकिपीडिया)

ताजे और सूखे रोजमेरी का प्रयोग कई व्यंजनों में किया जाता है. ये पता चला है कि रोजमेरी में एलर्जी से लड़ने की क्षमता होने के साथ ही यह अस्थमा से ग्रसित लोगों को आराम पहुंचाती है.

इस जड़ी बूटी में रोजमेरिनिक एसिड होता है, जिसमें एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सिडेंट दोनों गुण होते हैं. 

वहीं अगर आप रोजमेरिनिक एसिड को एक सप्लीमेंट के तौर पर लेते हैं तो इसे खाने के साथ लें, इससे पेट दर्द में राहत मिलेगी.

5. ऑर्गेनो

यह एक इतालवी जड़ी बूटी है.
यह एक इतालवी जड़ी बूटी है.
(फोटो: विकिपीडिया)

यह एक इतालवी जड़ी बूटी है. यह कई स्वास्थ्य संबंधी लाभों के लिए सप्लीमेंट के तौर पर भी उपलब्ध रहता है.

ऑर्गेनो तेल के तत्व गोली और सॉफ्टजेल कैप्सूल के तौर पर उपलब्ध रहते हैं. इसे सीधे गोली के तौर पर भी लिया जा सकता है, वहीं इसे काटकर इसके तेल को चेहरे पर भी लगाया जा सकता है.

Also Read : आयुर्वेद में कैसे होता है डिप्रेशन का इलाज?

(ये आर्टिकल सिर्फ आपकी जानकारी के लिए है. फिट आपको बिना डॉक्टरी सलाह के खुद से इन चीजों का इस्तेमाल दवा के तौर पर करने की सलाह नहीं देता है. )

Follow our फिट हिंदी section for more stories.

Also Watch

Loading...