ADVERTISEMENT

मेडिटेशन: कैसे लगाएं ध्यान? अमल में लाएं ये पांच टिप्स

Meditation: ध्यान व्यक्ति के शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है.

Published
<div class="paragraphs"><p>Meditation Benefits</p></div>
i

अगर आपने ये तय किया है कि आप अपको अपने शरीर और दिमाग की बेहतर देखभाल करने की आवश्यकता है, तो आप अकेले नहीं हैं. जहां कई लोग योग और घर पर वर्कआउट की ओर रुख कर रहे हैं, वहीं मेडिटेशन यानी ध्यान भी लोकप्रियता हासिल कर रहा है.

हालांकि, मेडिटेशन को लेकर ये सवाल रहते हैं कि इसकी शुरुआत कैसे और कहां से करें, इसमें कैसा महसूस होता है.

ADVERTISEMENT

जेड ब्लैक के डायरेक्टर और पार्टनर अंशुल अग्रवाल, जो खुद भी मेडिटेशन के प्रैक्टिशनर हैं, उनके मुताबिक ध्यान कुछ भी करने का सूक्ष्म कौशल है, लेकिन ये चिंतामुक्त होना और अपने वास्तविक स्वभाव से फिर से जुड़ना भी है, जो कि प्रेम, आनंद और शांति है.

"ध्यान आपको पूरी तरह से तनावमुक्त होने की अनुमति देता है. मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने और तनाव के स्तर को कम करने के लिए यह महत्वपूर्ण है. यह सांस लेने और छोड़ने का एक सरल व्यायाम है. यह एक स्फूर्ति देने वाली गतिविधि है, जिसे आपकी रोजाना की रूटीन में शामिल करना आसान है."
मेडिटेशन: कैसे लगाएं ध्यान? अमल में लाएं ये पांच टिप्स

(फोटो: IANS)

अंशुल अग्रवाल का कहना है कि ध्यान सीखना आसान है और इसमें कुछ सीधी तकनीकें शामिल हैं. ध्यान आरंभ करने से पहले, अग्रवाल सुझाव देते हैं:

1. मूल बातें जानें

रोजाना ध्यान करना कोई विलासिता नहीं बल्कि एक आवश्यकता है. अगर हम बिना शर्त आनंदित रहना चाहते हैं, और मन की शांति चाहते हैं तो हमें ध्यान की शक्ति का उपयोग करना चाहिए. इसका लक्ष्य आपको शांत, तनाव मुक्त, स्वस्थ और खुश करना है.

ध्यान व्यक्ति के शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है.

ध्यान फोकस बढ़ाता है और आपको वर्तमान क्षण के बारे में जागरूक होने की अनुमति देता है. अगर आप ध्यान दें, तो आप देखेंगे कि मन अतीत और भविष्य के बीच झूलता रहता है.

ADVERTISEMENT

2. इसे नियमित करें

अगर संभव हो तो हफ्ते में कई बार ध्यान का नियमित अभ्यास करें. शुरुआत में दस या 15 मिनट, रोजाना और चाहें तो इसके साथ हल्का संगीत सुन सकते हैं.

शुरुआत में आदत डालने के लिए अनुशासन और लगन की जरूरत होती है, इसलिए अपनी दिनचर्या और समय को आत्म-प्रेम के लिए सम्मान दें.

3. सुगंध का विकल्प चुनें

ध्यान का स्थान बनाने के लिए किसी पसंदीदा सुगंध का इस्तेमाल भी किया सकता है, जो मूड को बढ़ाता है. सुगंध बेहतर एकाग्रता, तनाव और चिंता को दूर करने, शांतिपूर्ण और अच्छी नींद में सहायता करने और आध्यात्मिकता की भावना पैदा करने में मदद करती है.

4. अपनी सांसों को महसूस करें

सांस लेते और छोड़ते समय अपनी सांस की अनुभूति का पालन करें.

जब आप ध्यान दें कि आपका दिमाग कुछ सेकंड या एक मिनट या उससे अधिक समय में भटक गया है, तो बस अपना ध्यान सांस पर लौटाएं.

आप महसूस करेंगे, ध्यान न सोचने के बारे में नहीं है, आपका दिमाग अपने आप बंद नहीं होगा और विचार-मुक्त नहीं होगा. इसकी बजाए ध्यान आपको अपने विचारों के बारे में अधिक जागरूक बनने में मदद कर सकता है, और समय के साथ उन्हें बेहतर तरीके से नियंत्रित कर सकता है.

ADVERTISEMENT

5. इसके साथ बने रहें

कुछ नया शुरू करना हमेशा आसान होता है - एक नया आहार, एक नया व्यायाम, नया शौक - लेकिन मुश्किल हिस्सा इसे जारी रखना है.

ऐसा होने के लिए आपको ध्यान करने और ध्यान का अभ्यास करने के अपने कारणों के बारे में स्पष्ट होना चाहिए.

आप इससे क्या पाना चाहते हैं, इस बारे में स्पष्टता होनी चाहिए - चाहे वह खुश महसूस करना हो, शांत महसूस करना हो, काम पर अधिक केंद्रित और प्रोडक्टिव होना हो या कम तनावग्रस्त होना हो.

यह मौलिक विचार आपको मन का सही दृष्टिकोण बनाने में मदद करेगा और आपको अपने शांतिपूर्ण आत्म के लिए प्रतिबद्धता बनाए रखने में मदद करेगा.

(इनपुट- IANS)

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT