भारतीय वैज्ञानिकों ने तैयार किया नए किस्म का कद्दू 'काशी शुभांगी'
एक फल 800-900 ग्राम का होगा. लंबाई 68-75 सेमी और गोलाई 21-24 सेमी होगी.
एक फल 800-900 ग्राम का होगा. लंबाई 68-75 सेमी और गोलाई 21-24 सेमी होगी.(फोटो: IANS)

भारतीय वैज्ञानिकों ने तैयार किया नए किस्म का कद्दू 'काशी शुभांगी'

वाराणसी का 'काशी शुभांगी' या 'छप्पन भोग' कद्दू सेहत के लिहाज से कई गुणों से भरपूर है. इस कद्दू का विकास भारतीय सब्जी अनुसंधान संस्थान के वैज्ञानिकों ने किया है.

Loading...

संस्थान के प्रधान वैज्ञानिक सुधाकर पांडेय ने आईएएनएस को बताया कि छप्पन कद्दू की महत्वपूर्ण सब्जी फसल ही नहीं, बल्कि इसमें औषधीय गुण भी हैं. इस कद्दू में ब्लड प्रेशर और मोटापा घटाने की क्षमता है.

इस फसल में लगभग सभी तत्व के विटामिन एवं खनिज तत्व हैं. इनमें मुख्य रूप से विटामिन A (211 मिग्रा), विटामिन C (20.9 मिग्रा), पोटैशियम (319 मिग्रा) एवं फॉस्फोरस (52 मिग्रा) मिलता है. यह प्रति 100 ग्राम फल में पाया जाता है.

इतना ही नहीं, इस सब्जी में पोषक तत्वों की प्रचुरता है. आईआईवीआर में विकसित इस प्रजाति को खेत के अलावा गमले में भी लगाया जा सकता है.

Also Read : ओमेगा-3: कई बीमारियों को दूर रखता है ये फैटी एसिड

(Make sure you don't miss fresh news updates from us. Click here to stay updated)

Follow our फिट हिंदी section for more stories.

    Loading...