ADVERTISEMENT

कोरोना के बीच इंग्लैंड में Norovirus का प्रकोप? जानिए इसके लक्षण

Norovirus: मई के आखिर से अब तक 150 से ज्यादा मामले

Updated
<div class="paragraphs"><p>Norovirus Outbreaks  in England: इंग्लैंड में नोरोवायरस का प्रकोप</p></div>
i

इंग्लैंड में नोरोवायरस (Norovirus) यानी विंटर वोमिटिंग वायरस के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड (PHE) के मुताबिक इस साल मई महीने के आखिर से जुलाई मध्य तक यहां इस वायरल संक्रमण के 150 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए हैं.

रिपोर्ट्स के मुताबिक इसके ज्यादातर मामले शिक्षण संस्थानों खासतौर पर छोटे बच्चों के स्कूलों और चाइल्ड केयर सेंटर में दर्ज किए गए हैं.

नोरोवायरस (Norovirus) क्या है?

नोरोवायरस अत्यधिक संक्रामक है और उल्टी और दस्त का कारण बनता है, इस वायरस से कोई भी संक्रमित हो सकता है और बीमार पड़ सकता है. लेकिन आमतौर पर ये कुछ दिनों में ठीक हो जाता है.

कोरोना वायरस संक्रमण की तरह ही इसमें भी संक्रमित शख्स एसिप्म्टोमैटिक रह सकता है.

यह संक्रमित व्यक्तियों या दूषित सतहों के संपर्क में आने से आसानी से फैलता है. कोरोना वायरस की तरह ही ये भी किसी सतह पर रह सकता है.

ADVERTISEMENT

नोरोवायरस संक्रमण के लक्षण क्या हैं?

किसी व्यक्ति में इसके लक्षण आने में आमतौर पर 12 से 48 घंटे लग सकते हैं.

नोरोवायरस संक्रमण के लक्षण

  • पेट दर्द

  • जी मिचलाना

  • उल्टी

  • दस्त

अन्य लक्षण:

  • बुखार

  • सिरदर्द

  • शरीर में दर्द

नोरोवायरस से संक्रमित ज्यादातर लोग 1 से 3 दिनों में ठीक हो जाते हैं. उल्टी और दस्त के कारण, लोग बहुत जल्दी डिहाइड्रेट हो सकते हैं.

ADVERTISEMENT

आप क्या सावधानियां बरत सकते हैं?

  • भोजन तैयार करते समय और किसी को दवाइयां देते समय हाथ आपके हाथ अच्छे से साफ होने चाहिए.

  • फलों, सब्जियों और भोजन बनाने के लिए इस्तेमाल हो रही चीजों को अच्छी तरह धो लें.

  • लक्षण बने रहने पर किसी और के लिए भोजन न बनाएं.

  • सभी सतहों को साफ करें और हर समय कीटाणुनाशक का उपयोग करें.

  • कपड़ों को डिटर्जेंट और गर्म पानी से अच्छी तरह धोएं और सुखाएं.

  • अगर आप संक्रमित हैं, तो किसी को स्वास्थ्य देखभाल या दवा न दें क्योंकि आपके जरिए वे वायरस के संपर्क में आ सकते हैं.

  • वॉशरूम का उपयोग करने के बाद स्वच्छता का पूरा ख्याल रखें.

ADVERTISEMENT

PHE के नेशनल इन्फेक्शन सर्विस के डिप्टी डायरेक्टर प्रोफेसर साहिर घरबिया ने कहा, "कोरोना की तरह, इसके प्रसार को रोकने में हाथ धोना महत्वपूर्ण है, लेकिन याद रखें, कोरोना वायरस के विपरीत अल्कोहल जैल नोरोवायरस पर असरदार नहीं होते, इसलिए साबुन और पानी सबसे अच्छा है."

इसका कोई खास उपचार नहीं है, नोरोवायरस का उपचार लक्षणात्मक रूप से किया जाता है. खुद को हाइड्रेट रखें और आराम करें.

(इनपुट: PHE, CDC)

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT