सेक्सॉल्व: ‘क्या मेरे जैसे समलैंगिक पुरुष हमेशा सिंगल रहते हैं?’ 

'मेरी जान-पहचान के लोग जानते हैं कि मैं गे हूं और मैंने पुरुषों को डेट किया है'

Updated
sexolve
6 min read
‘नहीं, समलैंगिक हमेशा सिंगल नहीं रहते.’
i

सेक्सॉल्व हरीश अय्यर का फिट पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.

अगर आपको सेक्स या रिलेशनशिप से जुड़ी कोई परेशानी है, कोई उलझन है, जिसे आप हल नहीं कर पा रहे हैं, या आपको किसी तरह की सलाह की जरूरत है, किसी सवाल का जवाब चाहते हैं या फिर यूं ही चाहते हैं कि कोई आपकी बात सुन ले- तो हरीश अय्यर को लिखिए, और वो आपके लिए ‘सेक्सॉल्व’ करने की कोशिश करेंगे. आप sexolve@thequint.com पर मेल करें.

पेश हैं इस हफ्ते के सवाल-जवाबः

‘क्या मेरे जैसे समलैंगिक पुरुष हमेशा सिंगल रहते हैं?’

डियर रेनबोमैन,

मैं 42 वर्षीय पुरुष हूं. मैं अविवाहित हूं. मेरे पास रिलेशनशिप में दिल टूटने की अटूट श्रृंखला है, ऐसा लगता है कि मेरे जीवन में दिल टूटना बार-बार घटने वाली एकमात्र घटना है. मैं अपने सर्कल में लोकप्रिय हूं और मेरे बहुत से करीबी दोस्त हैं. हालांकि वे सभी, जिसमें मेरा परिवार भी शामिल है, मेरी सेक्शुअलटी के बारे में जानते हैं और यह भी कि मैंने पुरुषों को डेट भी किया है. मैं नहीं चाहता कि मेरी जिंदगी मुसीबतों में घिर जाए, इसलिए मैं अपनी सेक्शुअलटी के बारे में कोई नाटकीय घोषणा करने से बच रहा हूं. आशा है कि आप एक्टिविस्ट लोग मुझसे यह सब करने की उम्मीद नहीं करेंगे. मैं खुद को काम में व्यस्त रखने की कोशिश करता रहता हूं, ताकि मैं अपने काम के लिए जाना जाऊं न कि अपनी सेक्शुअलटी के लिए. लेकिन हर बार कुछ गड़बड़ हो जाती है, जैसे हाल ही में मेरा दिल ऐसे शख्स के लिए तड़प रहा था, जो मुझे प्यार करे. क्या हम समलैंगिक हमेशा केवल सिंगल ही रहते हैं?

आपके जवाब के इंतजार में.

निराश पुरुष

डियर निराश पुरुष,

मुझे बताने के लिए शुक्रिया. मुझे पता है कि प्यार का टूटना बहुत बड़ा झटका होता है. लेकिन जैसा वो कहते हैं न, प्यार करना और गंवा देना बेहतर है, बनिस्बत कभी प्यार नहीं करने के. मुझे खुशी है कि आपके पास प्यार के अनुभव हैं, भले ही वे सदा के लिए नहीं थे. मैं ऐसे कई लोगों के बारे में जानता हूं जिन्होंने कभी भी दिल टूटने या प्यार की गर्माहट का एहसास नहीं किया है, आपको और मुझे ये सौभाग्य मिला है. मेरा यकीन करें, हमारे पास शुक्रगुजार होने के लिए बहुत कुछ है.

सिंगल समलैंगिक पुरुष के रूप में, जब हमारी उम्र बढ़ती है, तो हम एक दिन अकेले रह जाने के डर को स्वीकार करना शुरू कर देते हैं.

खासतौर पर तब जब हमारे आसपास के सभी लोग खुशी-खुशी या बिना खुशी के शादीशुदा हैं और कुछ अपने बच्चों को स्कूल पहुंचाने में व्यस्त हैं. मैं भी इसी नाव पर सवार था. मेरा भी वही डर है, जो आपका है. वास्तव में, केवल आप और मैं ही नहीं, कई और समलैंगिक लोग अकेले हैं, जो ऐसा ही डर साझा करते हैं. मैंने वक्त के साथ सीखा है कि इन आशंकाओं से निपटने का इकलौता तरीका है- इसे स्वीकार कर लेना और यह समझना कि कभी-कभी, आप अपने लिए अकेले काफी हैं. सबसे गहरा प्रेम संबंध एक व्यक्ति का खुद के साथ हो सकता है. जितना अधिक समय हम खुद में निवेश करते हैं- हम वो काम करते हैं, जिन्हें हम पसंद करते हैं, उन लोगों से डेटिंग करते हैं, जिन्हें हम गहराई से महसूस करते हैं लेकिन एक रिश्ते की तरह नहीं, तो हम खुश रहेंगे. हां, कभी-कभी फिर भी हमें यह महसूस होता है कि एक दिन सभी अकेले हो जाएंगे और इस भावना को स्वीकार करना सही है, लेकिन जल्द ही हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि हम हमेशा इसी दशा में न रहें.

नहीं, समलैंगिक हमेशा सिंगल नहीं रहते. मैं कई प्रतिबद्ध समलैंगिक पुरुषों के बारे में जानता हूं. और वे खुश भी हैं. आपको बाहर निकलने और ज्यादा लोगों के साथ बातचीत करने और खुशी की ज्यादा कहानियों को सुनने की जरूरत है. वहीं सिंगल समलैंगिक पुरुष भी हैं, जो एकदम खुश हैं.

एक बार जब आप खुश और दुखी दोनों लोगों को जान जाते हैं, तो आप अपने जीवन की धारणाओं को दुख की संभावना के आधार पर क्यों बनाएंगे- जोकि सबसे खराब संभावना है, इसकी बजाए खुशी पर क्यों नहीं, जो कि बेहतर संभावना है.

अपने फैसले के बारे में कि आप खुद के बारे में पहले से अधिक उजागर क्यों नहीं कर रहे हैं... यह एक निजी फैसला है, मैं आपको मजबूर करने वाला कोई नहीं हूं. मुझे खुशी है कि आपके अजीज, जो आपके करीबी हैं, वे आपके सच के बारे में जानते हैं.

मुस्कुराइए,

रेनबोमैन

अंतिम बात: जिंदगी बेहतर हो जाती है.

‘मैं बाइसेक्शुअल, पॉलीएमरस हूं और इसमें भी बदहाल हूं’

डियर रेनबोमैन

मैं एक बाइसेक्सुअल महिला हूं और मेरी एक गर्लफ्रेंड है. हम दोनों पॉलीएमरस हैं. हालांकि, वह शक करती है कि मैं किसी पुरुष को डेट कर रही हूं. उसे पॉलीएमरस से कोई दिक्कत नहीं है, जब तक कि कोई पुरुष इसमें शामिल न हो. इसमें जलन के अलावा, वह यह भी सोचती है कि मुझे कोई बीमारी हो जाएगी. मैं इस समस्या से कैसे पार पाऊं? मैं इन सभी झगड़ों से तंग आ चुकी हूं, जो हमारे बीच चल रहे हैं. हमारा रिश्ता एक मुश्किल दौर से गुजर रहा है. मैं उसे और इस रिलेशनशिप को बनाए रखना चाहती हूं. मुझे फौरन सलाह की जरूरत है.

सादर

उलझन

'मैं एक बाइसेक्सुअल महिला हूं और मेरी एक गर्लफ्रेंड है.'
'मैं एक बाइसेक्सुअल महिला हूं और मेरी एक गर्लफ्रेंड है.'
(फोटो: iStock)

डियर उलझन,

मुझे लिखने के लिए शुक्रिया. यह बहुत ही चुनौती भरा और दर्दनाक है, जब वो लोग जिनसे हम प्यार करते हैं, हमें नहीं समझ पाते हैं. इसका सुखदायी पक्ष- मुझे खुशी है कि आपके पास कोई है, जो आपको प्यार करता है और जो बहुत शिद्दत से प्यार करता है. मैं आपकी पार्टनर के लिए आपके प्यार और रिश्ते को बनाए रखने के आपके इरादे की तारीफ करता हूं. कभी-कभी लोगों को लगता है कि सबसे अच्छी चीज रिश्ता तोड़ देना है, जिससे आपके पास ताजी हवा और सकारात्मक तरंगों की गुंजाइश होती है.

बाइसेक्शुअल को काफी हद तक गलत समझा गया है; यह ऐसे लोग हैं जो व्यक्ति के जेंडर की परवाह किए बिना प्यार करने में सक्षम हैं. लेकिन चूंकि हम एक ऐसी दुनिया में रहते हैं, जहां हेट्रोसैक्शुअलटी (विषमलैंगिकता) आदर्श है और कहीं ज्यादा आसानी से स्वीकार की जाती है, लोग मान कर चलते हैं कि हर कोई दूसरे जेंडर वाली आबादी के साथ घर बसाएगा. वह असत्य है.

प्यार सुविधा को नहीं देखता, यह आपके दिल में उस गुदगुदी पैदा करने वाले एहसास की तलाश करता है, जिसे देखकर आप गहराई से आकर्षित हो जाते हैं.

मेरा मानना है कि रिश्ते के नियमों को कपल द्वारा खुद तय किया जाता है. मैं आपको यह नहीं बता सकता कि आपके रिश्ते में क्या नियम लागू होने चाहिए. लेकिन मैं आपको बता सकता हूं कि आप दोनों को बहुत जल्द ठंडे मन से और शांति से रणनीतिक बैठक करने की जरूरत है. आपको भावनाओं को अलग रखना चाहिए और एक डाइनिंग टेबल पर बैठना चाहिए और एक दूसरे से पूछना चाहिए कि आप अपने रिश्ते को कैसे परिभाषित करना चाहती हैं.

रिश्ते कोई एक बार बनाने की चीज नहीं हैं. किसी व्यक्ति के साथ हमेशा रहने के लिए, आपको एक ही व्यक्ति के साथ बार-बार प्यार करने की जरूरत है. आपको कभी-कभी नियमों को बदलना होगा या यह सुनिश्चित करने के लिए अपने नियमों में फेरबदल करना होगा कि कोई भी प्यार या रुचि खोए नहीं. मुझे लगता है कि इसका वक्त आ गया है.

आप दोनों को उस लम्हे की जरूरत है. आप दोनों को एक दूसरे को वह वक्त और स्पेस और गरिमा देना चाहिए ताकि आप अपने रिश्ते को फिर से परिभाषित कर सकें और नियमों को फिर से स्थिर कर सकें.

मुझे यकीन है कि यह ठीक काम करेगा, अगर आप दोनों इसमें अपने दिलों की बजाए अपना दिमाग लगाते हैं.

मुस्कुराइए

रेनबोमैन

अंतिम बात: याद रखें, आपको उसके प्यार में बार-बार पड़ना है.

‘मेरा पेनिस काफी बड़ा है, क्या इससे मेरी पार्टनर को चोट पहुंचेगी?’

डियर रेनबोमैन

मेरी उम्र 28 साल है और मैं कुंवारा हूं. मेरी कलम काफी बड़ी है. क्या इससे मेरी गर्लफ्रेंड या पत्नी जख्मी हो जाएगी?

सादर

बड़े मियां

डियर बड़े मियां,

मुझे उम्मीद है कि आपका मतलब पेनिस से है. अगर ऐसा ही है, तो ठीक है, आपके पास तकनीक होनी चाहिए और अपने आनंद के साथ पार्टनर के आनंद पर भी ध्यान केंद्रित करना चाहिए. उससे पूछें कि क्या दर्द हो रहा है, अगर वह आपको रुकने के लिए कहे तो रुक जाएं.

दूसरी ओर, अगर आप वास्तव में “कलम” के बारे में सोच रहे हैं, जैसी कि लिखने वाली कलम होती है, तो नहीं, कृपया अपनी पार्टनर के शरीर के अंदर फॉरेन ऑब्जेक्ट (टेस्ट किए गए प्लेजर ट्वॉयज को छोड़कर) न डालें.

मुस्कुराहटों के साथ

रेनबोमैन

अंतिम बात: ऑर्गेज्म की अग्रिम मुबारकबाद.

(FIT अब टेलीग्राम और वाट्सएप पर भी उपलब्ध है. जिन विषयों की आप परवाह देते हैं, उन पर चुनिंदा स्टोरी पाने के लिए, हमारे Telegram और WhatsApp चैनल को सब्सक्राइब करें.)

(Subscribe to FIT on Telegram)

Published: 
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!