सेक्सॉल्व: मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे दोस्त पर सेक्सुअल असॉल्ट किया

“मैं भी सेक्सुअल असॉल्ट सर्वाइवर हूं और उन नाजुक हालात को समझता हूं जिनसे किसी सर्वाइवर को गुजरना पड़ सकता है.”

Published
let-us-talk-sex
7 min read
सेक्स और रिलेशनशिप से जुड़े सवाल- जवाब पर साप्ताहिक कॉलम
i

(चेतावनी: कुछ सवाल आपको विचलित कर सकते हैं. पाठक को पढ़ने से पहले विवेक का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है.)

सेक्सॉल्व समता के अधिकार के पैरोकार हरीश अय्यर का फिट पर सवाल-जवाब आधारित कॉलम है.

अगर आपको सेक्स, सेक्स के तौर-तरीकों या रिलेशनशिप से जुड़ी कोई परेशानी है, कोई उलझन है, जिसे आप हल नहीं कर पा रहे हैं, या आपको किसी तरह की सलाह की जरूरत है, किसी सवाल का जवाब चाहते हैं या फिर यूं ही चाहते हैं कि कोई आपकी बात सुन ले- तो हरीश अय्यर को लिखें, और वो आपके लिए ‘सेक्सॉल्व’ करने की कोशिश करेंगे. आप sexolve@thequint.com पर मेल करें.

मेरे पति मेरी पैंटीज पहनते हैं

सेक्सॉल्व: मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे दोस्त पर सेक्सुअल असॉल्ट किया
(फोटो: iStockphoto)

डियर रेनबो मैन,

मैं 30 साल की विवाहित महिला हूं. मेरी शादी हुए 4 साल हो चुके हैं और मेरे पति भी लगभग मेरी ही उम्र के हैं. हमने प्रेम विवाह किया था और हमने शादी से पहले कई बार सेक्स किया था. मेरे पति एक एक्सिपेरिमेंटर (क्या आप समझ रहे हैं कि मेरा क्या मतलब है) हैं. हमने हर पोजिशन, हर जगह, हर तरह का सेक्स– एकदम सिंपल से लेकर डर्टी तक, इन सभी चीजों को किया है. जब हम एक-दूसरे से प्यार करते थे या किसी भी तरह का प्यार दिखाते थे, तो हमारे बीच असल में कभी कोई रुकावट नहीं थी. हम हमेशा करीब थे, सचमुच एक दूसरे के करीब थे. लेकिन एक महीने से हम रिश्ते को ठीक से चला नहीं पा रहे हैं. और अलगाव का यह नया दौर अचानक ही शुरू हुआ. मेरा कहना है कि, मुझे लगता है हमारा नया घर अपशगुनी है.

जब हम घर में आए तो मेरे पति के अंडरवियर पैकिंग में ही थे, जबकि मेरे अंडरगार्मेंट्स अनपैक्ड थे. मेरे पति को काम पर जाना था लेकिन इस वजह से मुश्किल हो रही थी. वह बिना अंडरवियर के या बॉक्सर पहन कर नहीं जाना चाहते थे– इसलिए, उन्होंने काम पर जाने के लिए मेरा अंडरवियर पहन लिया. उस रात जब वह वापस आए तो मुझे बताया कि उन्हें यह अंडरवियर पहनना और इसका अहसास अच्छा लगा. और कुछ ही दिनों में उनकी पूरी अलमारी बदल गई. उन्होंने मेरे अंडरवियर को अपने नियमित इनरवियर में शामिल कर लिया था. इस दौरान, हमारी सेक्स लाइफ भी काफी घट गई. अब मुझे अपने पति के ट्रांसजेंडर हो जाने के सपने आते हैं. मुझे लगता है कि वह बदल रहे हैं. या फिर ऐसा लगता है जैसे आदमी में औरत की आत्मा गई है, जैसा कि लक्ष्मी बॉम्ब में अक्षय कुमार के साथ हुआ था. क्या यह ट्रांसजेंडर महिला बनने की शुरुआत है? मुझे नहीं पता कि क्या चल रहा है. मेरा सिर घूम रहा है और मुझे लगता है मैं पागल हो जाऊंगी.

क्या अब यह होगा कि किसी दिन मेरे पति मेरे पास आएंगे और मुझसे कहेंगे कि उन्हें महिला नाम से पुकारा जाए? क्या हो रहा है? मुझे उम्मीद है कि आप यह नहीं सोचेंगे कि मैं पागल हूं.

आशंकित पत्नी

डियर आशंकित पत्नी,

मुझे मेल लिखने के लिए शुक्रिया. नहीं, मैं आपके बारे में कोई राय नहीं बना रहा. बेफिक्र रहें. कभी-कभी हमारी जिंदगी में ऐसे लम्हे आते हैं जब हम उन समस्याओं के बारे में गहराई से सोचते हैं जो दुनिया को बहुत मामूली लग सकती हैं. लेकिन एक धड़कते हुए दिल से कोई कैसे कह सकता है कि उसे किस तरह धड़कना चाहिए? ठीक है ना?

हमारा किसी भी आशंका से लड़ने का सबसे अच्छा तरीका है विज्ञान और तथ्य. तो मुझे उनमें से कुछ आपसे साझा करने की इजाजत दें.

ट्रांसजेंडर व्यक्ति वे लोग होते हैं जिनका जन्म से मिला जेंडर (ज्यादातर तो नर्स ही बताती है) और उनका जेंडर (जो वे जानते हैं कि वे हैं) एक दूसरे से उलट या अलग हैं. उदाहरण के लिए, अगर नर्स किसी बच्चे के जेनेटीलिया को देखती है और कहती है “मुबारक हो लड़का हुआ है”, जबकि बच्चा इस एहसास के साथ बड़ा होता है कि वो लड़की है, भले ही उनका जेनेटेलिया कैसा दिखता है, वह खुद को एक ट्रांसजेंडर स्त्री के रूप में पहचानेगा.

ऐसा कोई तरीका नहीं है कि आप या कोई और कभी भी यह पता लगा सकें कि कोई व्यक्ति खुद को ट्रांसजेंडर शख्स मानता है या नहीं. सिर्फ वही शख्स खुद की पहचान बता सकता है.

इसके अलावा, मेरी राय में अक्षय कुमार और फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब ने एक ऐसे समुदाय को और ज्यादा बुरे तरीके से पेश किया है, जो पहले से ही बुरी तरह बदनाम किया गया है. प्लीज, ट्रांसजेंडर्स का संदर्भ देने के लिए उस डरावनी फिल्म का इस्तेमाल न करें. नहीं, आपके पति किसी ट्रांसजेंडर आत्मा के कब्जे में नहीं हैं.

चीजें तब बेहतर होती हैं जब हम चीजों पर उस बात के लिए ध्यान देते हैं जिसके लिए दिया जाना चाहिए, इसके बारे में कोई गहरी व्याख्या या पूर्वधारणा के बिना.

अगर आपके पति आपकी पैंटी पहनना पसंद करते हैं, तो इसका इतना ही मतलब हो सकता है कि उन्हें आपकी पैंटी पहनना पसंद है. इसका मतलब यह नहीं हो सकता है कि वह महिला हैं या उस जैसा कुछ हैं. मैं ऐसे पुरुषों को जानता हूं जो बॉक्सर पहनते हैं, मैं ऐसे पुरुषों को जानता हूं जो ब्रीफ पहनते हैं, मैं ऐसे पुरुषों को जानता हूं जो बिना कुछ पहने रहते हैं और मैं ऐसे पुरुषों को जानता हूं जो औरतों के अंडरवियर को पसंद करते हैं. पुरुष हर तरह के होते हैं. अलग-अलग पुरुष अलग किस्म के अंडरवियर पसंद करते हैं.

मेरा सुझाव है कि आप अपने पति से बात करें. अंदाजे मत लगाएं, बात करें. और अपनी बातचीत को आरोप या फैसले की तरह न लगने दें. अगर वह तनावग्रस्त हैं तो उन्हें समझने की कोशिश करें और क्या यही वजह है कि वह सेक्स पर उतना ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहे हैं जितना कि वह पहले देते थे. अगर वह आपको बताने को तैयार हो जाएं, तो यह भी पता लगाएं कि फीमेल अंडरगारमेंट्स पहनने के उनके अनुभव कैसे हैं.

जिंदगी बेहतर हो जाती है अगर हम लोगों को उसी रूप में प्यार करना शुरू करते हैं जैसे वे हैं.

अपने पति के साथ स्वस्थ चर्चा करें. चीजें साफ और बेहतर हो जाएंगी.

मुस्कान के साथ

रेनबो मैन

अंतिम बातः इतनी ज्यादा फिक्र ना किया करो.

मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे दोस्त पर सेक्सुअल असॉल्ट किया

सेक्सॉल्व: मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे दोस्त पर सेक्सुअल असॉल्ट किया
(फोटो: iStockphoto)

डियर रेबनो मैन,

मैं उलझनों में घिर गई हूं. मुझे पता चला कि मेरे बॉयफ्रेंड ने मुझसे मिलने से कुछ साल पहले मेरे बेस्ट फ्रेंड से, जो मेल गे है, जबरदस्ती की थी. मेरा बॉयफ्रेंड गे नहीं है, बाईसेक्सुअल भी नहीं है, लेकिन मेरे बेस्ट फ्रेंड के साथ शराब के नशे में ऐसा किया था. मुझे नहीं पता क्या करना चाहिए. क्या इस घटना को शराब के नशे में हुई गलती मान कर भुला देना चाहिए? अगर मैं ऐसा करती हूं, तो क्या मैं अपने बेस्ट फ्रेंड से धोखा करूंगी? क्या मुझे उससे सवाल करना चाहिए और उसे बताऊं कि मैं जानती हूं? क्या मुझे अपने बॉयफ्रेंड को छोड़ देना चाहिए? मेरे बेस्ट फ्रेंड को छोड़ने का सवाल ही नहीं उठता. ऐसा कभी नहीं होगा. तो मुझे क्या करना चाहिए? प्लीज मुझे राह दिखाएं.

दोराहे पर लड़की

डियर दोराहे पर लड़की,

मुझे मेल लिखने के लिए शुक्रिया और शुक्रिया अपने बेस्ट फ्रेंड के साथ खड़े होने के लिए. मैं आपको बताना चाहूंगा कि अपने बॉयफ्रेंड के लिए अपने दोस्त को नहीं छोड़ने का रास्ता चुनने के लिए आपकी इज्जत करता हूं. आपका शुक्रिया.

मैं भी सेक्सुअल असॉल्ट सर्वाइवर हूं और उन नाजुक हालात को समझता हूं जिनसे किसी सर्वाइवर को गुजरना पड़ सकता है. मैंने करीब 8 लाख सर्वाइवर लोगों से बात की है और अब यह जानता हूं कि हर सर्वाइवर अलग-अलग तरीके प्रतिक्रिया करता है और इससे भी खास बात है कि अनोखे तरीके से प्रतिक्रिया करता है.

अपने बेस्ट फ्रेंड से बात करें. उस पर यकीन रखें. उससे समझें कि वह पूरी घटना को कैसे देखता है.

सर्वाइवर हारे हो सकते हैं, लेकिन वे टूटते नहीं हैं. वे सदमे में हो सकते हैं लेकिन पूरी तरह लाचार नहीं. वे खुद के लिए और दुनिया के लोगों की ज्यादा से ज्यादा भलाई के वास्ते फिर से उठ खड़े होने की ऊर्जा का इस्तेमाल करने की ताकत और क्षमता रखने वाले लोग हैं.

इसलिए अगर आप अपने बेस्ट फ्रेंड से प्यार करती हैं, तो उससे सच जानें और भविष्य में उठाया जाने वाला कदम तय करें. इसके अलावा आप काउंसिलिंग जरूर लें. अपने बेस्ट फ्रेंड के लिए भी काउंसिलिंग सुनिश्चित करें और मेरा सुझाव है कि आपके बॉयफ्रेंड को भी काउंसलर से मिलना चाहिए.

ये सभी रहस्योद्घाटन काफी हंगामाखेज हो सकते हैं. आपका अपने बॉयफ्रेंड के प्रति नजरिया भी इससे प्रभावित हो सकता है. उससे थोड़ी दूरी बनाएं ताकि यह तय कर सकें कि आप इस रिलेशनशिप में कैसे आगे बढ़ना चाहती हैं.

प्यार भरी झप्पी के साथ

रेनबो मैन

अंतिम बातः कृपया किसी काउंसलर से मिलें.

क्या मुझे बूब जॉब कराना चाहिए?

सेक्सॉल्व: मेरे बॉयफ्रेंड ने मेरे दोस्त पर सेक्सुअल असॉल्ट किया
(फोटो: iStockphoto)

डियर रेनबो मैन,

मेरा बॉयफ्रेंड चाहता है कि मेरे बूब्स बड़े हों. मेरे छोटे हैं. मैं बूब जॉब कराने की सोच रही हूं क्योंकि मुझे डर है कि ऐसा नहीं किया तो हमारी रिलेशनशिप खत्म हो जाएगी. क्या मुझे ऐसा कराना चाहिए?

एक सच्ची प्रेमी

डियर सच्ची प्रेमी

मुझे मेल लिखने के लिए शुक्रिया.

मैं आपको कुछ बातों पर विचार करने के लिए कुछ विचारों के साथ छोड़ता हूं.

आप अपने शरीर को किसी और द्वारा पसंद किए जाने के लिए कितना मॉडिफाई करने को तैयार होंगी? और आपके द्वारा किए गए सभी मॉडिफिकेशन के बाद क्या आप सौ फीसद आश्वस्त हो जाएंगी कि वह शख्स अब नहीं चाहेगा कि आप कोई और बदलाव करें?

आपको अपनी जिंदगी को अपनी नजर से देखने की जरूरत है कि दूसरे की नजर से.

कई बार जिंदगी हमें बदल देती है. लेकिन कई बार हम जिंदगी को इस हद तक बदल देते हैं कि हम खुद को पहचानने में असमर्थ हो जाते हैं – न तो यह समझ पाते हैं कि हम कौन हैं, न हम जो बन गए हैं.

खुद के करीब रहें. खुद से ज्यादा प्यार करे. खुद को अपनी नजर से देखें किसी और की नजर से नहीं.

बूब जॉब कराना या न कराना आपका फैसला है. वैसे, आप जो भी करना चाहती हैं वह इसलिए करें क्योंकि आप इसे करना चाहती हैं, न कि इसलिए कि कोई दूसरा चाहता है कि आप करें.

सप्रेम,

रेनबो मैन

अंतिम बातः उस शख्स की ख्वाहिश के लिए जिएं जिसे आप अपने आइने में देखती हैं.

(हरीश अय्यर एलजीबीटी कम्युनिटी, महिलाओं, बच्चों और पशुओं के अधिकारों के लिए काम करने वाले एक समान अधिकार एक्टिविस्ट हैं)

(Subscribe to FIT on Telegram)

Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!