ADVERTISEMENT

कैंसर से जूझ रही महिलाओं के लिए परिवार का सपोर्ट जरूरी: ताहिरा

'मुझे ये जान कर हैरानी हुई कि कैंसर होने पर कई महिलाओं के पति उन्हें छोड़ देते हैं.'

Published
कैंसर से जूझ रही महिलाओं के लिए परिवार का सपोर्ट जरूरी: ताहिरा
i

लेखिका-फिल्मकार ताहिरा कश्यप का कहना है कि स्तन कैंसर से जूझ रही महिलाओं के लिए पति और परिवार का साथ जरूरी है. ताहिरा हाल ही में पांच किलोमीटर की महिलाओं के मैराथॉन पिंकाथॉन रन में शामिल हुई थीं.

ताहिरा के पति आयुष्मान खुराना संघर्ष के उस दौर में उनके साथ बने रहे और इस दौरान दो साल उन्होंने ताहिरा के लिए करवा चौथ का व्रत भी रखा क्योंकि ताहिरा उस वक्त अपना इलाज करा रही थीं.

ADVERTISEMENT

ताहिरा ने मिलिंद सोमन के साथ बजाज इलेक्ट्रिकल्स पिंकाथॉन मुंबई 2019 के आठवें संस्करण के प्रोमोशनल प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया से बात करते हुए कहा, "आप उस दर्द और संघर्ष को किसी और के साथ बांट नहीं सकते हैं, लेकिन अगर आपके पास आपके माता-पिता, पति, बच्चों, परिवार के दूसरों सदस्यों और दोस्तों का सहारा होता है, तब वह संघर्ष, संघर्ष जैसा नहीं लगता है. मेरा मानना है कि तब वह सफर आसान, सुहाना और आनंददायक बन जाता है. हम सभी प्यार के आश्रित हैं, तो कामना करती हूं कि हम सभी ढेर सारे प्यार से घिरे रहें."

ताहिरा ने कहा, "मुझे हैरानी हुई थी जब मिलिंद सोमन ने बताया कि बहुत सारी महिलाएं, जब उन्हें कैंसर होता है, तो उनके पति उन्हें छोड़ देते हैं. हर कोई अपने जीवन में संघर्ष से गुजरता है, लेकिन अगर आपके पास अपने लोगों, परिवार और प्रियजनों का सपोर्ट है, तो सफर थोड़ आसान हो जाता है. मैं चाहती हूं कि सभी आदमी अपनी पत्नियों को उतना ही समर्थन करें, जितना मेरे पति ने किया और ऐसा ही होना चाहिए.”

(Subscribe to FIT on Telegram)

ADVERTISEMENT
Stay Up On Your Health

Subscribe To Our Daily Newsletter Now.

Join over 120,000 subscribers!
ADVERTISEMENT
×
×